[Hindi]आपकी राशि में मंगल के गोचर का प्रभाव

18 जून को मंगल मीन राशि में प्रवेश कर रहा है और प्रत्येक राशी पर इसका प्रभाव अलग-अलग है इसलिए यह पता करें कि आपका चंद्रमा राशि क्या है। मंगल मीन राशि में प्रतिगामी हो जाएगा और यहां लगभग 6 महीने तक लंबी अवधि तक रहेगा, जिसके दौरान यह छोटी अवधि के लिए मेष राशि में भी जाएगा।
1. मेष राशि वालो के लिए मंगल जो मिश्रित परिणाम देगा , यह जातक की इच्छाशक्ति को बढ़ने में सहयोग करेगा , इस राशी के जातको को बहुत प्रयास करना पड़ सकता है, लेकिन जातक अपने स्वास्थ्य के मुद्दों के बारे में सावधान रहना होगा और अपने सहयोगियों और जीवनसाथी के साथ विवाद से बचना होगा।
2. वृषभ राशि के लिए मीन राशि का मंगल पर गोचर लाभकारी परिणाम देगा , इससे उनकी आय में वृद्धि होगी और वे पैसे बचाने का प्रबंधन भी कर सकते हैं, लेकिन यदि आप छात्र हैं तो यह समय अध्ययन पर ध्यान केंद्रित करने का एक समय है मंगल आपको अच्छे परिणाम देगा बस अपने स्वास्थ्य के बारे में सावधान रहें और विवादों से बचें। वाणी की कटुता से बचे।
3. मिथुन राशी के लिए मंगल का गोचर लाभकारी है जातक ऊर्जावान रहेगा , विद्यार्थी के लिए अच्छा समय है, लेकिन माता-पिता को अपने बच्चों के बारे में चिंता हो सकती है, कुछ छोटे विवाद घर पर हो सकते है, लेकिन उनके काम के लिए फायदेमंद। लव रिलेशनशिप के लिए भी अच्छा समय है।
4. यह कर्क राशि के लिए मिश्रण परिणाम होगा यह खर्च और विवाद बढ़ा सकता है लेकिन अगर वे अपने रिश्ते पर प्रयास करते हैं और काम करते हैं तो उनका भाग्य निश्चित रूप से उनकी सहायता करेगा थोड़ा मन पे नियंत्रण रखे और अपने इस्ट देवता का जप करे।
5. सिंह राशि के लिए मंगल अधिक लाभकारी है और सिंह राशि के लोगों पर नकारात्मक प्रभाव कम करता है यदि आप कुछ पैसा कहीं फंस गए हैं तो इसे वापस पाने का समय है ,आपकी कमाई अच्छी होगी और इच्छा शक्ति भी बढ़ेगी यदि आप छात्र हैं तो ध्यान केंद्रित करने की कोशिश करें अपने अध्ययन पर अधिक ध्यान दे , हाँ अज्ञात क्षेत्र से कुछ समस्या भी हो सकती है इसलिए उसके बारे में सावधान रहें।
6. कन्या राशि के लिए मंगल का गोचर धन की बचत के लिए और प्रोफेशन के समय के लिए लाभदायक है लेकिन कुछ विवाद बिज़नेस पार्टनर और जीवनसाथी के साथ हो सकते हैं और इस समय अवधि के दौरान आप आसानी से क्रोधित हो सकते हैं इसलिए इसके बारे में सावधान रहें लेकिन पेशेवर रूप से आपके करियर में वृद्धि होगी।
7. तुला राशि वालो के लिए मंगल का गोचर कुछ क्षेत्र के लिए कठिन होता है, जो अपने स्वास्थ्य के बारे में सावधानी रखना होगा और अपने कार्यस्थल साथी और जीवनसाथी के साथ विवाद विवाद की स्थति हो सकती हैं, प्यार और रिश्ते में कुछ कठिनाइयों का सामना कर पड़ सकता हैं, जातक को अपने आवेगी स्वभाव को नियंत्रित करना चाहिए क्योंकि मंगल का गोचर उन्हें थोड़ा आवेगी बनाएगा।
8. वृश्चिक राशि के लिए मंगल का गोचर लाभकारी है, यह जातक को मूल नवोन्मेषी विचार देता है, लेकिन आवेग में कार्य करने के बारे में सावधान रहना चाहिए। जातक नय नय तरीके से पैसा बनाने का प्रयास करेंगे और इसके लिए उन्हें कुछ खर्च करना पड़ सकता है। यदि अनुसंधान या ध्यान में जातक की रुचि है उनके लिए बहुत अच्छा समय है।
9. धनु राशि के लिए मंगल के गोचर का संकेत है कि यह उनके प्रोफेशन और गेनिंग के लिए बहुत फायदेमंद होगा और स्टूडेंट का स्टडी में मन लगेगा अतः छात्र के लिए अच्छा होगा, हालांकि कुछ विवाद उनके साथी या जीवनसाथी के साथ हो सकते है , उन्हें अपने घर में शांति और सद्भाव की कमी महसूस हो सकती है इसलिए वे घर के सामंजस्य को बनाए रखने के लिए एक अतिरिक्त प्रयास करना होगा.
10. मंगल का गोचर मकर राशि के लिए बहुत ही लाभदायक है, मकर राशि जहाँ मंगल उच्च का होता है वहाँ से 3 रा घर में विराजमान है, इसलिए जातक अपने काम के प्रति लगन बल साहसी और प्रयत्नशील बन जाते हैं और यदि संभव हो तो यात्रा करनी पड़ सकती है ,भाग्य और प्रोफेशन की वृध्दि होगी लेकिन कोशिश करें विवाद से बचने के लिए और स्वास्थ्य समस्या हो सकती है।
11. कुंभ राशि के लिए मंगल का गोचर मिलाजुला प्रभाव ले कर आएगा , स्टूडेंट एंड क्रिएटिव फिल्ड वालो के लिए ये गोचर लाभकारी है, बल्कि उनके नवोन्मेषी विचारों को भी बढ़ाता है, संतान को लेकर चिंता हो सकती है लेकिन अपनी वाणी के बारे में सावधान रहें क्योंकि कुछ समय के लिए आप कटु हो सकते हैं और यह रिश्ते और दोस्ती में विवाद उतपन्न करेगा लेकिन यह अच्छा होगा की आप अपने प्रोफेशन और कार्य स्थल के वर्द्धि लिए प्रयत्न करे तो आपका भाग्य एक सही निर्णय लेने में मदद करेगी।
12. मीन राशि के लिए मंगल का गोचर थोड़ा अधिक कठिन हो सकता है, बल्कि उनकी विचार थोड़ा निगेटिव भी हो सकता है, उन्हें प्रेम और रिश्ते के साथ कम सामंजस्य महसूस होगा, जिसके कारन वे असहज महसूस कर सकते है लेकिन वे ध्यान और जाप थोड़ा समय देते हैं, तो इससे उनके विचार को पॉजिटिव बनाने में मदद मिलेगी जो उन्हें असहज भावना से बचाव करने में मदद करेगी।
तो यह मंगल के गोचर सभी और विभिन्न राशी पर प्रभाव है, हालांकि यह एक सामान्य भविष्यवाणी है। जातक की दशा क्या चल रही है और उस पर मंगल के गोचर पर क्या प्रभाव डालती है, इसलिए इसकी समग्र तकनीक दशा और गोचर के माध्यम से की जा रही है। मंगल का गोचर में अनुकूल होना दशा का भी जातक को बहुत कम प्रयास से सफलता इंगित करता है, वही इसका उल्टा भी हो सकता है